लॉकडाउन ने इंसानों को घर में क्या कैद किया, चारों ओर प्रकृति की मेहरबानी दिखने लगी. साफ़-सुथरी सड़कें और नदियों के साफ़ पानी के बाद अब लोगों को डॉल्फ़िन के दर्शन होने लगे हैं.

सोशल मीडिया पर नदी में तैरती डॉल्फ़िन का वीडियो लोगों को ख़ूब पसंद आ रहा है. ये वीडियो भारतीय वन अधिकारी आकाश दीप बाधवान द्वारा सोशल मीडिया पर शेयर किया गया है. नज़ारा मेरठ में गंगा नदी का है जहां डॉल्फ़िन में मस्ती करती दिखाई दे रही हैं. अधिकारी ने ये वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि गंगा डॉल्फ़िन, हमारा राष्ट्रीय जलीय जानवर, जो कभी गंगा-ब्रह्मपुत्र-मेघना नदी प्रणाली में रहती थी, अब वो विलुप्ति की कगार पर हैं. वो ताज़े पानी में रहती हैं और नेत्रहीन होती हैं. इन्हें मेरठ में गंगा में देखना सौभाग्य है.

रिपोर्ट के मुताबिक, आधिकारिक रूप से इन्हें 1801 में खोजा गया था, छोटे स्लिट्स होने के कारण ये जीव व्यावहारिक रूप से अंधे होते हैं. इसके साथ ही ये पास के क्षेत्र में मछलियों को ट्रैक करने के लिए अल्ट्रासोनिक साउंड्स का इस्तेमाल करती हैं. आमतौर पर ये अकेली होती हैं, पर कभी-कभी ये समूह में पाई जाती हैं. बाधवान का कहना है कि गंगा का बड़ा इलाका इनका निवास स्थान होता है. उन्होंने ये भी बताया कि मांस और तेल के लिये इनका शिकार करके हम इंसानों ने इनकी आबादी पर प्रभाव डाला है.

अब डॉल्फ़िन के लिये लोगों का उत्साह भी देख लीजिये

प्रकृति की ये मेहरबानी हम पर ऐसी ही बनी रहनी चाहिये.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.