'गगनयान मिशन' में जाने वाले रोबोट की झलक सामने आ गई है. इसरो ने इस Humanoid (ह्यूमनॉइड) का नामकरण भी कर दिया. 'गगनयान मिशन' में साथ जाने वाले रोबोट का नाम 'व्योम-मित्र' रखा गया है. 'व्योम-मित्र' की पहली झलक के मुताबिक, वो किसी फ़ीमेल की तरह दिख रहा और वो एक अंतरिक्षयात्री की तरह काम करेगा.

Vyom Mitra

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने ट्विटर पर 'व्योम मित्र' का वीडियो पोस्ट करते हुए इसके बारे में जानकारी दी. इसके साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि 'व्योम मित्र' को 'गगनयान मिशन' पर अंतरिक्ष यात्रियों से पहले ट्रायल के रूप में स्पेस भेजा जाएगा. बीते बुधवार बेंगलुरु में 'Human Spaceflight And Exploration - Present Challenges And Future Trends' सेमिनार के दौरान 'व्योम-मित्र' सभी के लिये चर्चा का विषय था.

अंतरिक्ष में 'व्योम मित्र' अंतरिक्ष यात्रियों की सहायता करेगी और उनके द्वारा पूछे गये सवालों के जवाब भी देगी.

gaganyaan mission
Source: defenceaviationpost

रिपोर्ट के अनुसार, इसरो की तरफ़ से दिसबंर 2021 में पहली दफ़ा मानवयुक्त यान स्पेस में भेजा जाएगा, जिसके लिये 4 अंतरिक्ष यात्रियों को सेलेक्ट भी कर लिया गया है. वहीं इसरो चीफ़ के. सिवान का कहना है कि जनवरी में 4 अंतरिक्ष यात्रियों को ट्रेनिंग के लिये रूस भेजा जाएगा.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.