संयुक्त राष्ट्र ने बीते शुक्रवार World Happiness Report-2020 जारी की है. रिपोर्ट के अनुसार, 10 ख़ुशहाल देशों में से 9 यूरोप के हैं, जबकि टॉप-20 में एशिया का एक भी देश नहीं है. इस रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया के सबसे ख़ुशहाल देशों में फ़िनलैंड लगातार तीसरी बार इस लिस्ट में पहले स्थान पर है.

world happiness index
Source: traveltriangle

2019 की रिपोर्ट की मानें तो, भारत इस साल चार पायदान नीचे गिरा है. इस साल भारत 156 देशों में 144 रैंक के साथ चौथे पायदान पर है. भारत का कुल स्कोर 3.573 है तो वहीं पाकिस्तान ने 66वीं रैंक के साथ 5.693 स्कोर किए हैं. ये रिपोर्ट साल 2018 और 2019 में जुटाए गए डेटा के आधार पर बनाई गई है.

world happiness index
Source: dynamitenews

इस लिस्ट में सबसे नीचे अफ़गानिस्तान, दक्षिणी सूडान, जिम्बाब्वे और रवांडा है, जबकि सबसे ऊपर फ़िनलैंड के बाद डेनमार्क (7.646), स्विट्ज़रलैंड (7.560), आइसलैंड (7.504) और नॉर्वे (7.488) शामिल है. वहीं न्यूज़ीलैंड 8वें स्थान पर है.

रिपोर्ट को बनाने वाले John Helliwell ने एक बयान में कहा,

सबसे ख़ुश देश वे हैं, जहां लोगों को अपनेपन का एहसास होता है, जहां वे एक-दूसरे पर और उनके साझा संस्थानों पर भरोसा करते हैं और आनंद लेते हैं. एक दूसरे पर विश्वास होने से कठिनाइयां कम होती है और देश का कल्याण होता है.
world happiness index
Source: patnadaily

किसी भी देश की World Happiness Report इन 6 सवालों के आधार पर तैयार की जाती है. इनमें देश की प्रति व्यक्ति आय, सामाजिक सहयोग, उदारता और भ्रष्टाचार, आज़ादी, स्वस्थ जीवन के सवालों के जवाब के अनुसार देशों की रैंकिंग की जाती है.

आपको बता दें, विश्व में सबसे खु़ुशहाल देशों को सूचीबद्ध करने के लिए भूटान ने 2011 में संयुक्त राष्ट्र में एक प्रस्ताव रखा था. इसे मंजू़ूरी मिलने के बाद से हर साल 20 मार्च को ‘World Happiness Day’ मनाया जाता है.

News से जुड़े आर्टिकल ScoopwhoopHindi पर पढ़ें.