dw
Source: dw

Young Activists: ग्रेटा थनबर्ग से लेकर मलाला युसुफ़ज़ई तक, कई युवा एक्टिविस्ट ने जलवायु परिवर्तन (Climate Change) और परमाणु युद्ध (Nuclear War) जैसे विषयों पर अपनी बात रखी हैं. ये अलग बात है कि दुनिया भर में सत्ता में बैठे वयस्क उनकी बातें सुनने को तैयार हैं या नहीं? 


तो आइए जानते है, उन Young Activists के बारे में जो लड़ रहे हैं दुनिया की सबसे बड़ी समस्याओं से -

वैश्विक मुद्दों पर लड़ने वाले युवा एक्टिविस्ट - Young Activists Fighting On Global Issues In Hindi

1. ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg)  

Greta Thunberg
Source: dw

Young Activists: ग्रेटा थनबर्ग आज के पर्यावरण संबंधी एक्टिविज़्म (Environmental Activities) का सबसे मशहूर चेहरा है. 2018 में उन्होंने अपने देश स्वीडन की संसद के बाहर अकेले हर शुक्रवार प्रदर्शनों की शुरुआत की थी. लेकिन उनके अभियान ने एक वैश्विक आंदोलन को जन्म दे दिया, जिसके तहत दुनिया भर में युवाओं ने शुक्रवार को अपनी स्कूल-कॉलेज छोड़ कर अपनी-अपनी सरकारों से जलवायु परिवर्तन के ख़िलाफ़ निर्णायक क़दम उठाने की मांग की.  

2. सेवर्न कल्लिस-सुजुकी (Severn Cullis-Suzuki)  

Severn Cullis-Suzuki
Source: theguardian

Young Activists In Hindi: 1992 में कनाडा में रहने वाली 12 साल की सेवर्न कल्लिस-सुजुकी को "दुनिया को पांच मिनट के लिए शांत कराने वाली लड़की " के रूप में जाना जाने लगा था. उन्होंने United Nations Earth Summit में वैश्विक नेताओं से अपने तरीके बदलने के लिए आग्रह किया था. वो कनाडा के पर्यावरणविद डेविड सुजुकी (Environmentalist David Suzuki) की बेटी है. उन्होंने मात्र 9 साल की उम्र में Environmental Children's Organization (ECO) नाम के संगठन की शुरुआत की.  

3. शूतेजकात रॉस्क-मार्तीनेज़ (Xiuhtezcatl Martinez)  

Xiuhtezcatl Martinez
Source: inhabitat

शूतेजकात रॉस्क-मार्तीनेज़ अमेरिका में एक जलवायु एक्टिविस्ट (Young Activists) है और 'Earth Guardians' नाम के संगठन की ड़ायरेक्टर है. 15 साल की उम्र से पहले ही उन्होंने जलवायु परिवर्तन पर तीन बार संयुक्त राष्ट्र को संबोधित कर लिया था. मार्तीनेज़ एक संगीतकार भी है और उन्होंने "Speak For The Trees" नामक एक हिप-हॉप गीत भी बनाया है. उनके गीत को 2015 के संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (United Nations Climate Change Conference - UNCCC) का थीम सॉन्ग बनाया गया था.  

4. मेलाती और इसाबेल विसेन (Melati And Isabel Wijsen)  

Melati And Isabel Wijsen
Source: webpcache

इंडोनेशिया के बाली की रहनी वाली मेलाती और इसाबेल विसेन ने स्कूल में मशहूर एक्टिविस्टों (Young Activists) के बारे में पढ़ उनसे प्रेरित हो कर 2013 में "Bye-Bye Plastic Bags" की स्थापना की. उनकी इस पहल का उद्देश्य है समुद्री तट, स्कूलों और समुदायों से एक बार इस्तेमाल कर फेंक दिए जाने वाले प्लास्टिक को बैन करवाना, ताकि 2022 के अंत तक बाली शहर प्लास्टिक मुक़्त (Plastic Free) हो जाए.  

5. मलाला युसुफ़ज़ई (Malala Yousafzai)  

Malala Yousafzai at UNO
Source: cdn.vox-cdn

Young Activists Info In Hindi: 17 साल की उम्र में मलाला युसुफ़ज़ई मानवतावादी कोशिशों के लिए Nobel Prize पाने वाली सबसे कम उम्र की विजेता बन गई. उन्हें पाकिस्तान में महिलाओं के लिए शिक्षा के अधिकार की मांग करने के लिए तालिबान ने गोली मार दी थी, लेकिन वो बच गई और अपना काम जारी रखा.  

6. इक़बाल मसीह (Iqbal Masih)  

Iqbal Masih
Source: dw

पाकिस्तान के इक़बाल मसीह को पांच साल की उम्र में कालीन की एक फ़ैक्ट्री में ग़ुलाम बना दिया गया था. 10 साल की उम्र में आज़ाद होने के बाद उन्होंने दूसरे बाल-ग़ुलामों की भाग निकलने में मदद की और बाल श्रम के ख़िलाफ़ संघर्ष के प्रतीक बन गए. लेकिन 12 साल की उम्र में उनकी हत्या कर दी गई. इस तस्वीर में उनकी मां और उनकी बहन उनके हत्यारे की गिरफ़्तारी की मांग कर रही हैं.  

7. थांडीवे चामा (Thandiwe Chama)  

Thandiwe Chama
Source: kidsrights

जब जाम्बियान थांडीवे चामा 8 साल की थी, तब उनके स्कूल के कई शिक्षकों की एचआईवी/एड्स से मौत हो जाने की वजह से स्कूल को बंद करना पड़ा था. तब उन्होंने स्कूल के बच्चों को इकठ्ठा किया, उन्हें लेकर दूसरे स्कूल पहुंचीं और सबके शिक्षा की अधिकार की मांग करते हुए उन्हें, वहां दाखिला देने की मांग की. वो अपनी किताब "The Chicken With AIDS" की मदद से बच्चों में एचआईवी/एड्स को लेकर जागरूकता फ़ैलाती है.  

ये भी पढ़ें: मुंबई के स्लम एरिया के लोगों के लिए उम्मीद की किरण हैं, ट्रांसजेंडर एक्टिविस्ट माधुरी खरात 

8. कोसी जॉनसन (Cassie Johnson)  

Cassie Johnson
Source: dw

Young Activists: जन्म से एचआईवी संक्रमित कोसी जॉनसन को दक्षिण अफ्रीका के जोहान्सबर्ग के एक सरकारी स्कूल ने दाखिला देने से मना कर दिया था. 2000 में 11 साल की उम्र में उन्होंने अंतरराष्ट्रीय एड्स सम्मेलन (International AIDS Conference) में भाषण दिया और अपनी आपबीती को दुनिया के साथ साझा किया. अपनी पालक मां के साथ उन्होंने एचआईवी संक्रमित माओं और उनके बच्चों के लिए एक शरण स्थान की स्थापना की.  

ये भी पढ़ें: मिलिए निशा से, ट्रांसजेंडर होने पर मिली थी 3 महीने की सज़ा. आज एक्टिविस्ट बन ला रहीं बदलाव  

9. बाना अल-आबेद (Bana Al-Abed)  

Bana Al-Abed
Source: middleeastmonitor

Young Activists Information In Hindi: 24 सितंबर, 2016 को सिर्फ़ 7 साल की बाना अल-आबेद ने तीन शब्दों में अपना पहला ट्वीट लिखा था, "मुझे शांति चाहिए." उसके बाद उन्होंने युद्ध ग्रस्त सीरिया में उनके जीवन के बारे में पूरी दुनिया को बताया. तब से वो विश्व के नेताओं से सीरिया में शांति की स्थापना करने की गुहार लगा रही है. आज ट्विटर पर उनके 2,78,000+ फ़ोल्लोवेर्स है.  

ये है युवा एक्टिविस्ट जो लड़ रहे हैं दुनिया की सबसे बड़ी समस्याओं से.  

ये भी पढ़ें: ये हैं भारत की वो 5 महिला युवा एक्टिविस्ट, जो देश और दुनिया की बेहतरी के लिए लड़ रही हैं