T20 World Cup 2022: साल 1992 में पाकिस्तान (Pakistan) पहली बार ‘विश्व चैंपियन’ बना था. ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड की संयुक्त मेज़बानी में खेले गये इस ‘वर्ल्ड कप’ में इमरान ख़ान (Imran Khan) की कप्तानी वाली पाक टीम ने फ़र्श से अर्श तक का सफ़र तय किया था. 1992 के ‘वर्ल्ड कप’ में पाकिस्तान की टीम शुरुआती 5 मैचों में केवल 3 प्वाइंट ही हासिल कर सकी थी. अपने पहले ही मैच में वेस्टइंडीज़ से शिकस्त खाने के बाद पाकिस्तानी टीम पर वर्ल्ड कप से बाहर ख़तरा मंडरा रहा था. लेकिन टीम आख़िर में ‘वर्ल्ड चैंपियन’ बनकर घर लौटी थी. #EkCupHoJaaye

ये भी पढ़िए: T20 World Cup से जुड़े Team India के इन 8 यादगार पलों को देखकर आप कहोगे #EkCupHoJaaye

पाकिस्तान (Pakistan) ने अपना पहला मैच गंवाने के बाद ज़िम्बाब्वे के ख़िलाफ़ अगले मैच में जीत हासिल कर 2 प्वाइंट हासिल किये. तीसरे मुक़ाबले में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ पूरी पाक टीम महज़ 74 रनों पर आउट हो गयी. लेकिन बारिश के चलते किस्मत से इस मैच से पाकिस्तान 1 प्वाइंट मिल गया. इसके बाद चौथे मुक़ाबले में भारत ने 43 रनों से पठखनी देकर पाकिस्तान को तोड़कर रख दिया था. इसके बाद 5वें मुक़ाबले में साउथ अफ़्रीका ने 20 रनों से शिकस्त देकर रही बची कसर भी पूरी कर दी.

espncricinfo

अब पाकिस्तान को आगे जाने के लिए अपने बचे हुए सभी मैच जीतने थे. पाकिस्तान का अगला मैच ऑस्ट्रेलिया से होना था. ये मैच इसलिए भी ख़ास था क्योंकि एक ओर ऑस्ट्रेलियाई टीम ने अपने देश की किट पहनी हुई थी. वहीं उधर इमरान ख़ान ने अपनी टीम की किट तो पहनी थी, लेकिन आधी-अधूरी. पाकिस्तानी खिलाड़ियों के पास मैच ड्रेस भी नहीं थी. इसलिए उन्हें मज़बूरन किट वाली टीशर्ट की जगह एक सफ़ेद टीशर्ट पहनी थी, जिस पर एक टाइगर बना हुआ था.

Sports

ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ इस मुक़ाबले में भले ही पाकिस्तानी टीम की ड्रेस आधी-अधूरी थी, लेकिन उनकी तैयारी पूरी थी. पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुये ऑस्ट्रेलिया को 221 रनों का टारगेट दिया. ऑस्ट्रेलिया जैसी मज़बूत टीम के लिए ये टारगेट बेहद आसान लग रहा था. लेकिन पाकिस्तानी तेज़ गेंदबाज़ों आकिब जावेद, इमरान ख़ान और वसीम अकरम ने आधी से ज़्यादा ऑस्ट्रेलियाई टीम को पवेलियन भेजकर ये मुक़ाबला 48 रनों से जीत लिया था. अब पाकिस्तान के 6 मैचों में 5 पॉइंट्स हो चुके थे.

icc

पाकिस्तान (Pakistan) के अब भी 2 मैच बचे थे और सेमीफ़ाइनल में जगह बनाने के लिए उसे दोनों ही मैच बड़े मार्ज़न से जीतने थे. बावजूद इसके पाकिस्तानी टीम को सेमीफ़ाइनल की दौड़ में बने रहने के लिए दूसरी टीमों के नतीज़ों पर निर्भर रहना था. लेकिन पाकिस्तान लिए इससे बड़ी मुश्किल थी ,उसके 3 प्रमुख खिलाड़ियों जावेद मिआंदाद, वक़ार यूनुस, इमरान ख़ान और सईद अनवर की फ़िटनेस.

icc

पाकिस्तान ने अपने अगले मुक़ाबले में श्रीलंका जैसी मजबूत टीम को आसानी से हरा दिया. लेकिन अब उसे न्यूज़ीलैंड से पार पाना था, जो उस वर्ल्ड कप में अब तक एक भी मैच नहीं हारी थी. लेकिन पाकिस्तान ने इस करो या मरो वाले मुक़ाबले में न्यूज़ीलैंड को 7 विकेट से हरा दिया. इसके साथ ही पाकिस्तान के 9 प्वाइंट हो गए और उसके सभी मैच भी हो चुके थे. लेकिन अभी भी सेमीफ़ाइनल में उनकी जगह पक्की नहीं हुई थी.

इस मैच से मिली पाकिस्तान को सेमीफ़ाइनल में एंट्री

सेमीफ़ाइनल में जगह बनाने के लिए अब पाकिस्तान की नज़रें वेस्टइंडीज़ और ऑस्ट्रेलिया मुक़ाबले पर थी. पहले से 8 प्वाइंट लिए बैठी वेस्टइंडीज़ अगर ये मैच जीत जाती तो वो अगले राउंड में पहुंच जाती. वहीं ऑस्ट्रेलिया के पास केवल 6 प्वाइंट थे, इस हिसाब से वेस्टइंडीज़ का हारना पाकिस्तान के लिए संजीवनी बूटी के सामान था. हुआ भी कुछ ऐसा ही ऑस्ट्रेलिया ने वेस्टइंडीज़ को 57 रनों से हरा दिया और पाकिस्तान का सेमीफ़ाइनल का टिकट पक्का हो गया.

Sports

सेमीफ़ाइनल में न्यूज़ीलैंड को हराकर बना वर्ल्ड चैंपियन

साल 1992 वर्ल्ड कप की प्रबल दावेदार न्यूज़ीलैंड ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए पाकिस्तान को 263 रनों का मुश्किल टारगेट दिया. जवाब में पाकिस्तान ने 6 विकेट खोकर ये मुक़ाबला जीतकर फ़ाइनल में प्रवेश किया. इसके बाद फ़ाइनल मुक़ाबले में इंग्लैंड को 22 रनों से हराकर पाकिस्तान वर्ल्ड चैंपियन बन गयी.

thecricketmonthly

T20 World Cup 2022 में भी पाकिस्तान का सफ़र कुछ ऐसा ही रहा. भारत के ख़िलाफ़ पहले मुक़ाबले में करारी हार के बाद पाकिस्तान अपने दूसरे मुक़ाबले में ज़िम्बाब्वे से भी हार गया था. इस हार के बाद पाकिस्तान के T20 World Cup से बाहर होने के कयास लगाए जा रहे थे, लेकिन अपने बाकी बचे तीनों मुक़ाबले जीतकर पाकिस्तान ने सेमीफ़ाइनल की दौड़ में बने रहने की उम्मीद जगाए रखी. बाकी रही बची कसर नीदरलैंड से हारकर साउथ अफ़्रीका ने पूरी कर दी और पाकिस्तान ने सेमीफ़ाइनल में जगह बना ली.

geo.tv

आज सेमीफ़ाइनल में पाकिस्तान का मुक़ाबला एक बार फिर से न्यूज़ीलैंड से ही है. कहीं ऐसा तो नहीं पाकिस्तान इस बार 1992 का ‘वर्ल्ड कप’ दोहराने जा रहा है.