Professor VN Parthiban Who holds 145 degrees In India: भारत के सबसे अधिक पढ़े-लिखे व्यक्ति की बात करें तो बाबासाहेब डॉ. भीम राव अम्बेडकर और डॉ. श्रीकांत जिचकर का नाम सबसे ऊपर आता है. आंबेडकर जी के पास कुल 32 डिग्रियां थीं और उन्हें 9 से अधिक भाषाओं का ज्ञान भी था. वहीं डॉ. श्रीकांत जिचकर के पास 20 से अधिक डिग्रियां थीं. श्रीकांत को भारत का सबसे ज़्यादा पढ़ा-लिखा व्यक्ति भी कहा जाता था. ऐसा इसलिए क्योंकि वो UPSC की परीक्षा पास कर IAS अधिकारी बने थे. वो एक MBBS डॉक्टर भी थे. इसके अलावा उनके पास कई अन्य डिग्रियां थी जो उन्होंने मेरिट से पास की थीं.

ये भी पढ़ें: मिल्कुरी गंगव्वा: खेतों में मज़दूरी की और अब Famous YouTuber के बाद बन गईं हैं साउथ की Actress

आज हम आपको चेन्नई के एक ऐसे प्रोफ़ेसर के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके पास बाबासाहेब भीम राव अम्बेडकर और डॉ. श्रीकांत जिचकर से कहीं अधिक डिग्रियां हैं. इनका नाम प्रोफ़ेसर वीएन पार्थिबान (VN Parthiban) है. चेन्नई के रहने वाले प्रोफ़ेसर पार्थिबान के पास कुल 145 शैक्षणिक डिग्रियां हैं.

laughingcolours

61 वर्षीय प्रोफ़ेसर वीएन पार्थिबान (VN Parthiban) का विजिटिंग कार्ड किसी किताब से कम नहीं है. उन्होंने 30 साल की पढ़ाई में 145 शैक्षणिक डिग्रियां हासिल की हैं. प्रोफ़ेसर पार्थिबान के पास LAW से लेकर MBBS तक की डिग्रियां हैं. वो अब तक चेन्नई के कई कॉलेजों में 100 से ज़्यादा विषय पढ़ा चुके हैं.

depoedu

प्रोफ़ेसर VN Parthiban के पास हैं ये डिग्रियां

प्रोफ़ेसर वीएन पार्थिबान (VN Parthiban) के पास 12 M.Phil, 9 MBA, 8 M.Com, 8 ML और 3 M.Sc जैसी बड़ी डिग्रियां हैं. इसके अलावा उन्होंने कई अन्य विषयों में भी डिग्रियां हासिल की हैं.

laughingcolours

ये भी पढ़ें: मिलिए 96 साल की इस ‘ग्लोबल नानी’ से, जिनकी ‘बर्फी और अचार’ ने उन्हें बना दिया है वर्ल्ड फ़ेमस

प्रोफ़ेसर वीएन पार्थिबान (VN Parthiban) चेन्नई के एक बेहद साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं. उन्हें बचपन से पढ़ाई करना अच्छा लगता था. वो एक ऐसे पेशे में आना चाहते थे जिससे उन्हें पढ़ाई करने का मौका मिल सके. पार्थिबान बताते हैं कि वो हर रविवार या तो कोई परीक्षा में बैठे होते हैं या फिर रिसर्च पेपर की तैयारी कर रहे होते हैं.

प्रोफ़ेसर वीएन पार्थिबान (VN Parthiban) ने बताया कि इतना पढ़ने के बावजूद वो ख़ुद के दिमाग को तेज़ नहीं मानते. एक बार उन्होंने एक्चूरियल साइंस के लिए आवेदन दिया था, लेकिन गणित से डर की वजह से वो उसे पूरा नहीं कर सके थे. इसके अलावा उन्हें लोगों का चेहरा याद रखने में भी दिक्कत होती है. कई बार तो वो रोजाना के रास्ते भी भूल जाते हैं.

fragranceofsuccess

प्रोफ़ेसर वीएन पार्थिबान (VN Parthiban) ही नहीं, उनकी पत्नी भी कुछ कम नहीं हैं. पार्थिबान की पत्नी एक बैंक कर्मचारी हैं और उनके पास 9 शैक्षणिक डिग्रियां हैं. वहीं, उनके एक बेटे और बेटी ने इंजीनियरिंग के बाद एमबीए किया है. प्रोफ़ेसर पार्थिबान को 61 साल की उम्र में भी पढ़ाना अच्छा लगता है.

ये भी पढ़ें: मिलिए देश के बर्ड मैन से जो 45 सालों से लगातार पक्षियों का पेट भरने का काम कर रहे हैं