FIFA World Cup 2022 New Rules: फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप की शुरुआत हो चुकी है. वर्ल्ड की बेस्ट 32 फ़ुटबॉल टीम्स ये ख़िताब हासिल करने के लिए एक दूसरे से मैदान पर भिड़ती नज़र आंएगी. अपनी फ़ेवरेट टीम को चीयर करने के साथ ही अपने फ़ेवरेट फ़ुटबॉल प्लेयर को देखने का भी ये शानदार मौक़ा है.

इसके अलावा FIFA ने इस वर्ल्ड कप को मज़ेदार बनाने के लिए कुछ नए रूल्स भी बनाए हैं. ये इस वर्ल्ड कप को और भी स्पाइसी बनाने वाले हैं. 

ये भी पढ़ें: जब जूतों की वजह से FIFA ने भारतीय फ़ुटबॉल टीम को कर दिया था बैन, जानिए आख़िर ऐसा क्यों हुआ

1. एक मैच में 5 सब्सिट्यूट (5 Substitute)

substitutes in football
arcpublishing

FIFA वर्ल्ड कप के इतिहास में पहली बार हो रहा है जब टीम्स एक मैच में 5 सब्सिट्यूट ले सकेंगी. मगर इन्हें एक पूर्वनिर्धारित समय में ही लेना होगा. पहले एक मैच में बस 3 ही सब्सिट्यूट ले सकते थे. इससे टीम के प्लेयर्स को तरोताज़ा रखने में मदद मिलेगी और टीम के कोच को ज़रूरत के हिसाब से बदलाव करने में हेल्प मिलेगी. मैनेजर्स पेनल्टी शूटआउट से पहले गोलकीपर भी बदल सकते हैं.

2. सेमी-ऑटोमेटेड ऑफ़साइड नियम (Semi-Automated Offside Rule)

offside rule football
thesun

ये पहला वर्ल्ड कप है जिसमें Semi-Automated Offside टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाएगा. इस रूल के अनुसार, एक खिलाड़ी ऑफ़साइड में तब माना जाता है जब उसका सिर, शरीर या पैर का कोई भी हिस्सा विरोधियों के हाफ़ में हो. या फिर  उसका सिर, शरीर या पैर का कोई भी हिस्सा विरोधियों की तुलना में गोल लाइन के अधिक नज़दीक हो. टेक्नोलॉजी की मदद से इसका निर्णय लेने में इस बार 20 सेकंड लगेंगे. ये तकनीक गोल लाइन टेक्नोलॉजी के जैसी ही है और VAR का अपग्रेडेड वर्ज़न कहलाती है.

3 फ़ीमेल रेफ़री (Female Referee)

ये पहली बार होगा जबा मेन्स के इस वर्ल्ड कप में फ़ीमेल रेफ़री भी मैदान पर दिखाई देंगी. महिलाओं के फ़ुटबॉल मैच में पुरुष रेफ़री दिखते थे, लेकिन पुरुषों के मैच में बहुत कम ही फ़ीमेल रेफ़री दिखती हैं. इस बार के वर्ल्ड कप के लिए 36 रेफ़री सेलेक्ट किए गए हैं. जिनमें कई महिला रेफ़री भी शामिल हैं. 

4. 26 सदस्यीय टीम (26-Man Squads)

FIFA World Cup 2022 men's squad
premiumtimesng

क़तर में हो रहे इस वर्ल्ड कप में हुआ सबसे बड़ा बदलाव यही है. अब हर टीम में 26 मेंबर्स होंगे. ये संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. पहले ये 18 थी फिर 23 हुई और अब 26 हो गई है. मतलब हर देश के पास 11 खिलाड़ियों के अलावा 15 फ़ुटबॉल प्लेयर्स के विकल्प मौजूद होंगे. इन्हें मैच के दौरान किसी कमी को देखते हुए उस हिसाब से उतारा जा सकेगा. 

5. गोलकीपर को पैनेल्टी के दौरान अपना थोड़ा पैर लाइन पर रखना होगा (Goalkeepers Need To Have A Foot On The Line During Penalties)

goalkeeper penalty
the18

इस बार गोलकीपर को पैनेल्टी किक के दौरान अपना थोड़ा पैर लाइन पर रखना होगा. ये रूल बहुत सी फ़ुटबॉल लीग्स में पहले से ही है. इस बार फ़ीफ़ा ने भी इसे शामिल कर लिया है. इस नियम के मुताबिक, गोलकीपर को पेनल्टी किक से पहले कम से कम एक पैर लाइन पर रखना ज़रूरी होगा.

इन सारे नियमों को FIFA ने फ़ुटबॉल की क्वालिटी को बढ़ाने के उद्देश्य से शामिल किया है.