क्रिकेट में दिलचस्पी रखने वालों के लिए मज़ेदार ख़बर आई है. Marylebone Cricket Club(MCC) ने इस खेल को लेकर कुछ नए नियम बनाए हैं. इनमें से एक नियम पर सोशल मीडिया पर काफ़ी चर्चा हो रही है साथ में फ़ेमस फिरकी गेंदबाज़ आर.अश्विन भी ट्रेंड कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें:  युवराज, कैफ़ या जडेजा नहीं, बल्कि ये क्रिकेटर था भारतीय क्रिकेट इतिहास का सबसे अच्छा फ़ील्डर 

अब आप कहेंगे कि इन नियमों से अश्विन का क्या लेना देना. अरे भई लेना देना है. अश्विन और इन नए रूल्स में से एक का बड़ा ही मज़ेदार क़िस्सा है वो बाद में आपको बताएंगे पहले जानते हैं कि नया नियम क्या है और क्यों इसे लेकर इतना हो-हल्ला हो रहा है.

Marylebone Cricket Club
Source: observerbd

बहनो और भाइयों MCC यानी मेरिलबोन क्रिकेट क्लब ने इन नए रूल्स को बनाया है. ये क्लब क्रिकेट क्लब लॉर्डस का बहुत ही पुराना और ख़ास क्रिकेट क्लब है. यही क्रिकेट से जुड़े नियम बनाता है और जिसे International Cricket Council(ICC) बाद में पूरे क्रिकेट वर्ल्ड पर लागू करती है और इन्हीं के तहत ये गेम खेला जाता है.

ये भी पढ़ें:  सर डॉन ब्रैडमैन: एक ऐसा क्रिकेटर जिसके नाम है टेस्ट क्रिकेट में 12 दोहरे शतक जड़ने का रिकॉर्ड

What Is Mankading
Source: lords

MCC ने कुछ नियमों में हाल ही में बदलाव किया है इनमें से एक जुड़ा है Mankading(मांकड़िंग) से. पहले इसे अनफ़ेयर माना जाता था, इसे लेकर कई बार कॉन्ट्रोवर्सी भी होती रही, अब इसे मान्यता मिल गई है. यानी अब इसे फ़ेयर माना जाएगा. 

मांकड़िंग(Mankading) क्या होता है?

Mankading
Source: sportsindiashow

अब जानते हैं ये मांकड़िंग क्या बला है. अगर नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़ा बल्लेबाज़ गेंद डालने से पहले अपनी क्रीज़ से बाहर निकलता है और बॉलर स्टंप्स पर बॉल थ्रो कर उसे आउट कर देता है तो उसे आउट माना जाएगा. इसे पहले अनफ़ेयर प्ले माना जाता था. नए नियमों में MCC ने इसे लीगल कर दिया है. उसने इसे लॉ 41(अनफे़यर प्ले) से लॉ 38(रन आउट) की कैटेगरी में डाल दिया है.

Mankading no longer unfair play
Source: indianexpress

पहल के रूल्स के मुताबिक, Mankading से पहले एक बार सामने वाले को चेतावनी देनी चाहिए पर ऐसा ज़रूरी भी नहीं है. इसे खेल भावना के विपरीत माना जाता है. इसलिए ऐसा करने वाले बॉलर को हमेशा विरोधी टीम के फ़ैंस की खरी-खरी सुनने को मिलती थी. जिससे कई विवाद भी खड़े हुए.

अश्विन और मांकड़िंग

Mankading and Ashwin
Source: trendycricket

ऐसा ही एक विवाद जुड़ा अश्विन से. उन्होंने 2019 के IPL के एक मैच में Mankading का सहारा लेते हुए जोस बटलर को आउट कर दिया था. इसलिए आज जब इस रूल को लीगल कर दिया गया है तो उनकी चर्चा हो रही है. ये मैच किंग्स 11 पंजाब और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेला गया था. उस वक़्त अश्विन पंजाब की टीम के कप्तान भी थे.   

icc
Source: indiatvnews

पूर्व विस्फ़ोटक बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर ने भी इस नियम को फ़ेयर बनाए जाने के लिए क्रिकेट फ़ैंस को बधाई दी है और ख़ुशियां जाहिर की है. सहवाग ने तो अश्विन को टैग करते हुए ट्वीट किया कि अब वो आराम से Mankading कर सकते हैं. साथ में उन्होंने ये भी सलाह दी की इस बार के आईपीएल में एक बार ऐसा ज़रूर करना.

नए नियमों को 1 अक्टूबर 2022 से लागू किया जाएगा. वैसे एमसीसी के इस फैसले की निंदा भी होनी शुरू हो गई है. इंग्लैंड के पेसर स्टुअर्ट ब्रॉड ने एक बयान जारी कर मांकड़िंग को जायज ठहराना ग़लत बताया है. अब इन्हें स्वीकार करना है या नहीं ये International Cricket Council(ICC) तय करेगा.