महाराष्ट्र सरकार ने बीते सोमवार को कोविड-19 के बढ़ते केसेज़ (Cases) को देखते हुए रेस्ट्रिकशन्स (Restrictions) लागू किए हैं.

India Today की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, बीते सोमवार को महाराष्ट्र में कोविड-19 के 15,051 नये मामले आये. इसके अलावा 10,671 कोविड-19 ग्रसित लोग ठीक हुए और 48 लोगों की मृत्यु हो गई.

Marine Drive Covid 19
Source: Zee News

महाराष्ट्र सरकार के राज्य स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक़, महाराष्ट्र में 1,30,547 एक्टिव केस है और रिकवरी रेट (Recovery Rate) 92.07 प्रतिशत है. इसके साथ ही फ़ैटिलिटी रेट (Fatality Rate) 2.27 प्रतिशत है.

चीफ़ सेक्रेटरी सीताराम कुन्ते ने ये गाइडलाइन्स जारी करते हुए कहा कि हर व्यक्ति का मास्क पहनना अनिवार्य है. इसके साथ ही हर स्थान पर आवश्यकतानुसार लोग होने चाहिए जो मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग की चेकिंग करेंगे.

ये भी पढ़िए- कोरोना वैक्सीन के साइड इफ़ेक्ट को लेकर परेशान हैं तो जानिए क्या कहता है WHO इस बारे में 

Coronavirus India
Source: India Today

The Indian Express की एक रिपोर्ट के अनुसार, राज्य में एसेंशियल सर्विसेज़ (Essential Services) के अलावा सभी एस्टेबलिशमेंट्स (Establishments) में 50 प्रतिशत ही लोगों को एंट्री दी जाएगी. राज्य के हर दफ़्तर में 31 मार्च तक, 50 प्रतिशत कर्मचारी दफ़्तर आएंगे. 

नये रिस्ट्रिक्शंस (Restrictions) का पालन न करने पर उस सिनेमा हॉल, होटल, रेस्टोरेंट को कोविड-19 पैंडमिक ख़त्म होने तक बंद कर दिया जाएगा. इसके अलावा उस स्थान के मालिक को Disaster Management Act के तहत फ़ाइन (Fine) भी भरना होगा.
महाराष्ट्र में हर तरह के सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनैतिक सभाओं पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. ऑर्डर की अवमानना करने पर सभा का आयोजन करने वाले होटल और रेस्टोरेंट पर जुर्माना लगाया जाएगा. नये गाइडलाइन्स के मुताबिक़, शादी में 50 लोग और मैय्यत पर 20 लोग ही सम्मिलित हो सकते हैं.

Covid19 Mumbai
Source: First Post

ये भी पढ़िए- इन 7 तरीक़ों से आप भी अपने माता-पिता को कोरोना टीकाकरण के रजिस्ट्रेशन की जानकारी दे सकते हैं 

Money Control की रिपोर्ट के अनुसार, होम आइसोलेशन (Home Isolation) के लिए भी नये गाइडलाइन्स जारी किए गए हैं. होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड-19 से संक्रमित लोगों के घरों के दरवाज़े पर एक बोर्ड लगाना अनिवार्य है. इस बोर्ड पर क्वारंटीन शुरू होने की तारीख़ और मरीज़ के हाथ पर होम क्वारंटीन स्टैम्प का लगा होना अनिवार्य है. होम आइसोलेशन में रह रहे मरीज़ों को लोकल ऑथोरिटी को ये सूचित करना होगा कि मरीज़ किस मेडिकल प्रोफ़ेशनल से इलाज करवा रहा है. नियमों का उल्लंघन करने वाले संक्रमित लोगों को कोविड केयर सेन्टर में शिफ़्ट कर दिया जाएगा. 
धार्मिक स्थानों के मैनेजमेंट (Management) को इस बात की जानकारी देने को कहा गया है कि वो प्रति घंटे कितने श्रद्धालुओं को एंट्री देंगे.

Coronavirus Mumbai Local
Source: The Times of India

Financial Express की रिपोर्ट के मुताबिक़, महाराष्ट्र और कर्नाटक में बढ़ रहे केसेज़ को मेडिकल एक्सपर्ट्स भारत में कोविड-19 का सेकेंड वेब (Second Wave) बता रहे हैं. नासिक में तेज़ी से बढ़ते केसेज़ को देखते हुए मुनिसिपल कॉरपोरेशन ने 31 मार्च तक सभी स्कूलों को बंद करने के निर्देश दिए हैं.

ये भी पढ़िए- सैफ़ अली ख़ान, हेमा मालिनी समेत इन 6 सेलेब्स ने लगवाया कोविड वैक्सीन का पहला टीका