भारतीय क्रिकेट में वैसे तो रिकॉर्ड्स की एक लंबी लिस्ट है. जिसे हर कोई याद करना चाहता है. जिसे सुनकर हर भारतीय का सीना चौड़ा हो जाता है. सचिन, विराट, कपिल, सहवाग और पता नहीं कितने ही अनगिनत नाम हैं इस लिस्ट में. लेकिन कुछ ऐसे भी रिकॉर्ड्स भारतीय क्रिकेटर्स के नाम दर्ज हैं, जिनको याद न तो फ़ैंस करना चाहते हैं, न हीं ख़ुद ये रिकॉर्ड होल्डर प्लेयर्स.

1. राहुल द्रविड़

भारतीय टीम की वॉल के नाम से फ़ेमस राहुल द्रविड़ की कई पारियां आपको याद होंगी. उनके कई रिकॉर्ड्स आपको मुंह ज़बानी याद होंगे. लेकिन आपको पता है कि राहुल सर के नाम पर एक अजीब रिकॉर्ड भी है. टेस्ट मैच में सबसे ज़्यादा बार बोल्ड होने का. अपने टेस्ट करियर में राहुल सर ने 173 पारियां खेलीं. जिसमें से वो 55 बार बोल्ड हुए हैं. 

Rahul Dravid
Source: Cricketaddictor

2. महेंद्र सिंह धोनी

कैप्टन कूल, बेस्ट फ़िनिशर, बेस्ट कैप्टन, माही, न जाने कितने नाम से इस खिलाड़ी को दुनियाभर के फ़ैंस बुलाते हैं. जिसके नाम हर आईसीसी ट्रॉफ़ी जीतने का रिकॉर्ड है, लेकिन इसके साथ धोनी के नाम एक अजीब रिकॉर्ड भी है, जिसे शायद कोई फ़ैंन याद नहीं करना चाहता. वो रिकॉर्ड है इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज़्यादा बार बोल्ड होने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज़ होना. अपने करियर में धोनी 9 बार बोल्ड हुए हैं. जो किसी किसी भी दूसरे विकेटकीपर बल्लेबाज से ज़्यादा है.

MS Dhoni
Source: sk

3. बापू नाडकर्णी

बापू नाडकर्णी को हमें से से बहुत कम लोग पहचानते होंगे. लेकिन उनका रिकॉर्ड बहुत अनोखा और शानदार है. बापू ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ एक टेस्ट मैच में 131 बॉल लगातार डॉट फ़ेकी थीं. मतलब 21 ओवर और 5 बॉल. इसके बाद ऐसा आज तक किसी ने नहीं किया.  

Bapu
Source: sk

4. अजीत अगरकर

वैसे तो इस खिलाड़ी के नाम कई शानदार रिकॉर्ड्स हैं, लेकिन इनके नाम सबसे ज़्यादा बार लगातार शून्य पर आउट होने का रिकॉर्ड है. अजीत अगरकर पांच बार लगातार शून्य पर आउट हुए और उन्होंने ये रिकॉर्ड अपने नाम किया है.

Ajit Agarkar
Source: crictracker

5. सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर को नाम रिकॉर्ड तेंदुलकर होता तो कुछ ग़लत नहीं होता. उनके कई रिकॉरड्स देश और दुनिया को उन पर गर्व करने के लिए कहते हैं. लेकिन ये रिकॉर्ड शायद सब भूलना चाहते होंगे. 1992 में पहली बार थर्ड अंपायर लागू किया गया था और उस थर्ड अंपायर का पहला शिकार सचिन तेंदुलकर थे.

Sachin

6. बी.एस. चंद्रशेखरन

ये रिकॉर्ड वैसे तो अजीब नहीं है, लेकिन जानने लायक़ ज़रूर है. चंद्रशेखरन दुनिया के इकलौते ऐसे बॉलर हैं, जिनके करियर विकेट्स उनके करियर में बनाए रन से ज़्यादा हैं. चंद्रशेखरन ने अपने करियर में 242 विकेट्स लिए हैं और उनके रन 167 ही हैं.

BS Chandrasekhar

7. सचिन तेंदुलकर

एक बार फिर इस लिस्ट में इनका नाम आना लाज़मी था, क्योंकि शतकों का शतक लगाने वाले सचिन की करियर सेंचुरी और ज़्यादा होतीं अगर उनके नाम ये रिकॉर्ड नहीं होता. सचिन नर्वस 90 पर सबसे ज़्यादा बार आऊट होने वाले बल्लेबाज़ हैं. सचिन कुल 18 बार नर्वस 90 पर आउट हए हैं.    

Sachin

तो कैसे लगे आपको अपने स्टार खिलाड़ियों के ये अजीब रिकॉर्ड्स. अगर आपको कुछ ऐसे रिकॉर्ड्स पता हैं तो कमेंट बॉक्स में लिख कर ज़रूर बताएं