‘प्रिंस ऑफ़ कोलकाता’, ‘God Of The Offside’ और ‘दादा’ के नाम से मशहूर पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली को वर्ल्ड क्रिकेट में इन्हीं नामों से जाना जाता है. भारत के सफ़लतम कप्तानों में से एक सौरव गांगुली मैदान पर अपने अग्रेसिव अंदाज़ के लिए जाने जाते थे. सौरव गांगुली वो कप्तान जिसने बेख़ौफ़, निडर और विपक्षी खिलाड़ियों की आंखों में आंखें डालकर ‘टीम इंडिया’ को विदेशी धरती पर जीतना सिखाया था. भारत की तरफ से वनडे क्रिकेट में 10 हज़ार रन बनाने वाले सचिन के बाद दूसरे ओपनर बने थे दादा. क्रिकेट के कई बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किये. यही कारण है कि 20 साल से वर्ल्ड क्रिकेट में दादा की दादागिरी जारी है.

ये भी पढ़ें: इंडियन क्रिकेट टीम का वो कप्तान, जिसने टीम इंडिया को सिखाया था विदेशी धरती पर जीतना

youngisthan

क्यों कहते हैं बेख़ौफ़ और निडर कप्तान? 

बात साल साल 1998-99 की है. भारतीय क्रिकेट बुरे दौर से गुज़र रही थी. सचिन तेंदुलकर टीम इंडिया के कप्तान हुआ करते थे. लेकिन कप्तान और बल्लेबाज़ के तौर पर सचिन लगातार असफ़ल हो रहे थे. इस बीच ‘टीम इंडिया’ के कुछ अहम खिलाड़ियों पर मैच फ़िक्सिंग के आरोप लगे. इन्हीं सब मुश्किलों के बीच सचिन तेंदुलकर ने कप्तानी छोड़ दी. इस कठिन समय में टीम की अगुवाई कौन करेगा? BCCI इसी को लेकर मुश्किल में था. इस बीच बोर्ड ने सौरव गांगुली को कप्तानी का ऑफ़र दिया, तो दादा ने कप्तानी का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया, लेकिन दादा ने एक शर्त रखी कि वो खिलाड़ी अपने पसंद के चुनेंगे और युवाओं को ज़्यादा मौका देंगे. BCCI ने उनकी ये शर्त मान ली और गांगुली दादा साल 2000 में टीम इंडिया के कप्तान बन गए. इसके बाद जो हुआ उसका रिज़ल्ट आज भारतीय का टॉप पर होना है.  

jagran

सौरव गांगुली कोलकाता की एक नामी गिरामी फ़ैमिली से ताल्लुक रखते हैं. उनके पिता कोलकाता के सबसे अमीर बिज़नेसमैन में से एक हुआ करते थे. दादा बचपन से ही एक प्रिंस की तरह ज़िंदगी जिए हैं. आज भी वो दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेटरों में से एक हैं. चलिए आज आपको सौरव गांगुली की नेटवर्थ से लेकर बंगले, कार्स सब कुछ के बारे में जानकारी दे देते हैं. 

ये भी पढ़ें: प्रिंस ऑफ़ कोलकाता: भारत का वो इकलौता क्रिकेटर, जिसने अपनी शर्तों पर खेला क्रिकेट 

zricks

दादा हैं करोड़ों के बंगले के मालिक 

सौरभ गांगुली की गिनती कोलकाता के अमीर लोगों में होती है. कोलकाता के बेहाला इलाक़े में उनका आलीशान पुश्तैनी घर है. इसकी क़ीमत 40 करोड़ रुपये से अधिक है. दादा ने साल 2009 में कोलकाता में एक लक्ज़री डिज़ाइनर हाउस ख़रीदा था, जिसकी क़ीमत 7 करोड़ रुपये के क़रीब है. इस्ला अलावा सौरव गांगुली ने हाल ही में सेन्ट्रल कोलकाता में एक आलिशान बंगला ख़रीदा है जिसकी क़ीमत 44 करोड़ रुपये के क़रीब है. दादा की फ़ैमिली जल्द ही इस घर में शिफ़्ट होने जा रही है.  

sportskeeda

ब्रांड एंडोर्समेंट से कमाई

सौरभ गांगुली क्रिकेट से संन्यास के बावजूद टीवी के चर्चित चेहरों में से एक हैं. दादा आज भी Puma, DTDC, JSW Cement, Ajanta Shoes, My11 Circle, Tata Tetley, Acilar Lens, Fortune Oil और Senco Gold समेत कई बड़े ब्रांड एंडोर्स करते हैं. इससे वो सालाना 6 से 7 करोड़ रुपये की कमाई कर लेते हैं.

https://bestmediainfo.com/2020/02/sourav-ganguly-is-the-brand-ambassador-of-polycrol

लक्ज़री Cars के शौक़ीन 

सौरभ गांगुली को केवल क्रिकेट का ही नहीं, बल्कि लग्ज़री कार्स को भी शौक है. दादा के पास Mercedes Benz CLK 230 (46.55 लाख रुपये), BMW 7-Series (57 लाख रुपये), Audi Q5 (55 लाख रुपये), BMW X4 (46 लाख रुपये), Ford Endeavour (44 लाख रुपये) कार्स हैं. इसके अलावा दादा के पास BMW G310 GS (4 लाख रुपये) मोटर साइकिल भी है.  

thecrickzone

सौरभ गांगुली की नेटवर्थ (Sourav Ganguly Net Worth)

सौरभ गांगुली Indian Super league (ISL) टीम Atletico – De Kolkata के मालिक भी हैं. इससे भी उनकी अच्छी ख़ासी कमाई हो जाती है. दादा सालाना क़रीब 24 करोड़ रुपये की कमाई करते हैं. वर्तमान में सौरव गांगुली की नेटवर्थ 50 मिलियन डॉलर (365 करोड़ रुपये) के क़रीब है.

sportzcraazy

सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) वर्तमान में बीसीसीआई (BCCI)अध्यक्ष हैं. इस पद पर रहते हुए दादा को हर साल 5 करोड़ रुपये की फ़ीस मिलती है.