Sudhir Kumar Super Fan of Indian Cricket: क्रिकेट की शुरुआत बेशक अंग्रेज़ों ने की हो, लेकिन इस पर एकछत्र राज तो भारत ही करता है. भारत दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट प्रेमी देश है. भारत में क्रिकेट को धर्म की तरह और खिलाड़ियों को भगवान की तरह पूजा जाता है. क्रिकेट को लेकर जो क्रेज़ भारत में देखा जाता है वो किसी और मुल्क में नहीं. गावस्कर, कपिल, सचिन, कुंबले, द्रविड़, गांगुली, धोनी और विराट ऐसे भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्होंने अपने शानदार खेल से क्रिकेट जगत पर राज किया है.

ये भी पढ़ें: जब एक वेटर ने सुधारी थी सचिन तेंदुलकर की बैटिंग, बेहद दिलचस्प है क्रिकेट इतिहास का ये क़िस्सा

Source: icc

क्रिकेट के मैदान पर खिलाड़ी जिस तरह से छक्के-चौके मारकर और विकेट चटकाकर फ़ैंस का मनोरंजन करते हैं, ठीक उसी तरह क्रिकेट प्रेमी भी अपने इन फ़ेवरेट खिलाड़ियों पर उतना ही प्यार लुटाते हैं. किसी को 'गावस्कर' और 'सचिन' की बैटिंग अच्छी लगती थी तो किसी को 'कपिल' और 'कुंबले' की गेंदबाज़ी. हर क्रिकेट फ़ैन का अपना एक पसंदीदा खिलाड़ी होता है फिर चाहे वो किसी भी देश का क्यों न हो. लेकिन सुधीर कुमार चौधरी (Sudhir Kumar Chaudhary) जैसा फ़ैन न कभी था, न कोई है और न कभी होगा. ऐसा इसलिए क्योंकि सुधीर खाते-पीते, सोते-जागते बस क्रिकेट के बारे में ही सोचते हैं. ये कहना ग़लत नहीं होगा कि सुधीर की रगों में 'ख़ून' की जगह 'क्रिकेट' दौड़ता है.

Sudhir Kumar Super Fan of Indian Cricket

Sudhir Kumar super fan of Indian Cricket
Source: starsunfolded

आज हम आपको भारत के भारतीय क्रिकेट के इसी ज़बरा फ़ैन के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके लिए क्रिकेट ही सब-कुछ है-

अगर दुनिया में क्रिकेट के सबसे जुनूनी फ़ैन का ज़िक्र होगा तो भारत के सुधीर कुमार चौधरी का नाम सबसे ऊपर होगा. 41 साल के सुधीर को सचिन तेंदुलकर के प्रशंसक के तौर पर बह जाना जाता है. सचिन के रिटायमेंट के वक़्त अगर कोई सबसे ज़्यादा कोई रोया हो तो वो सुधीर ही हैं. सचिन तेंदुलकर को अपना भगवान मानने वाले सुधीर ने अपनी पूरी ज़िंदगी भारतीय क्रिकेट के लिए समर्पित कर दी है. अपना घर-बार त्याग चुके सुधीर के लिए आज सब कुछ क्रिकेट ही है और वो आगे भी एक फ़ैन के तौर पर भारतीय क्रिकेट के लिए ऐसे ही जीना चाहते हैं.

Sudhir Kumar Super Fan of Indian Cricket

Sudhir Kumar super fan
Source: starsunfolded

कभी शादी न करने का फ़ैसला  

सुधीर कुमार चौधरी (Sudhir Kumar Chaudhary) का जन्म 1982 को बिहार के मुजफ्फरपुर में हुआ था, जिन्हें सुधीर कुमार गौतम के नाम से भी जाना जाता है. 6 साल की उम्र से ही वो सचिन तेंदुलकर के फ़ैन बन गये थे. टीवी पर क्रिकेट देखते हुये उन्हें भारतीय क्रिकेट और सचिन तेंदुलकर से प्यार हो गया था. 14 साल की उम्र में सुधीर ने अपनी पढ़ाई छोड़ दी थी. इसके बाद वो एक दूध कंपनी में काम करने लगे. लेकिन काम में ज़्यादा दिन मन नहीं लगा और नौकरी छोड़ दी. साल 2005 में सुधीर ने अपनी ज़िंदगी का सबसे बड़ा फ़ैसला लिया. वो था कभी शादी न करने का फ़ैसला. भारतीय क्रिकेट टीम सभी मैच देख सकें इसलिए उन्होंने ये बड़ा फ़ैसला लिया था.

Sudhir Kumar Super Fan of Indian Cricket

Sudhir Kumar Cricket Fan
Source: starsunfolded

साल 2007 में देखा था पहला लाइव मैच

सुधीर कुमार की इस जीवन शैली से उनके माता-पिता भी काफ़ी परेशान हो गये थे. एक बार जब माता पिता ने उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम देखने की अनुमति नहीं दी तो सुधीर ने आत्मदाह की धमकी तक दे डाली थी. लेकिन जब सुधीर नहीं माने तो माता-पिता ने उन्हें उनके हाल पर छोड़ दिया. इसके बाद ही सुधीर का सबसे बड़ा क्रिकेट फ़ैन बनने का सफर शुरू हुआ. सुधीर ने साल 2003 में पहली बार मैदान पर जाकर टीम इंडिया का मैच देखा था. तब से लेकर साल 2010 तक सुधीर भारत में खेले गये टीम इंडिया के 150 मैच स्टेडियम में देख चुके थे. यहां तक कि सुधीर कुछ विदेशी दौरों पर भी टीम इंडिया को मैदान पर चीयर्स करते हुये नज़र आ चुके हैं.

Sudhir Kumar Super Fan of Indian Cricket

Sudhir Kumar super fan of Indian Cricket
Source: freepressjournal

ये भी पढ़ें: कभी कप्तान के आगे ओपनिंग के लिए गिड़गिड़ाए थे सचिन, पहली ही इनिंग साबित हुई 'मास्टरस्ट्रोक'

साइकिल से सैकड़ों किमी का सफ़र तय कर देखते हैं मैच

सुधीर कुमार की ख़ास बात ये है कि वो साइकिल से सैकड़ों किलोमीटर का सफर तय करके टीम इंडिया का मैच देखने स्टेडियम पहुंचते हैं. साल 2007 में वो टीम इंडिया का मैच देखने साइकिल से बांग्लादेश तक पहुंच गये थे. साल 2006 में पाकिस्तान के लाहौर में टीम इंडिया का मैच देखने के लिए उन्हें बिना टिकिट ट्रेन में सफ़र तक करना पड़ा था. क्योंकि उनके पास इतने पैसे नहीं थे. सुधीर ने साल 2003 में भारत और ऑस्ट्रेलिया का मैच देखने के लिए बिहार से मुंबई तकका सफ़र साइकिल से 21 दिनों में तय किया था.

Sudhir Kumar Super Fan of Indian Cricket

Sudhir Kumar super fan of Indian Cricket
Source: newsbugz

मैच देखने के लिए करती हैं ये तैयारी

सुधीर कुमार चौधरी (Sudhir Kumar Chaudhary) मैच से एक दिन पहले से ही तैयारियों में लग जाते हैं. इस दौरान वो सबसे पहले अपने शरीर को रंगते हैं और उस रात अपने शरीर पर रंग को सुखाने के चक्कर में सही से सोते भी नहीं पाते हैं. इस दौरा वो अपने शरीर को तिरंगे से रंगते हैं, भारत के झंडे के रंग के साथ वो आमतौर पर तेंदुलकर का नाम अपने सीने पर लिखवाते हैं. इसके अलावा सुधीर अपने साथ एक शंख भी रखते हैं और टीम इंडिया के आगमन की घोषणा करने के लिए शंख बजाते हैं.  

Sudhir Kumar Super Fan of Indian Cricket

Sudhir Kumar super fan of Indian Cricket
Source: thehindubusinessline

सुधीर अक्सर क्रिकेट प्रेमी जनता से धन इकट्ठा करते हैं. ताकि वो स्टेडियम में भारत का मैच देख सकें. वो भारतीय क्रिकेट टीम की कई यादगार जीतों के गवाह भी रहे हैं. इनमें 2011 वर्ल्ड कप, एशिया कप समेत कई अहम मैच शामिल हैं. 2011 वर्ल्ड कप जीतने के बाद सचिन ने सुधीर को टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम में सेलिब्रेट के लिए भी बुलाया था. इस दौरान सुधीर ने अपने हाथों में 'वर्ल्ड कप ट्रॉफ़ी' भी उठाई थी. सचिन की वजह से सुधीर को ताउम्र टीम इंडिया के मैच फ़्री देखने की परमिशन मिली है. सचिन तेंदुलकर के संन्यास के बाद, सुधीर अपने शरीर पर 'मिस-यू तेंदुलकर' लिखकर भारतीय क्रिकेट टीम के लिए चीयर करते रहते हैं.

Sudhir Kumar Super Fan of Indian Cricket

Sudhir Kumar super fan of Indian Cricket
Source: sportskeeda

Sudhir Kumar Super Fan of Indian Cricket

सुधीर कुमार की ज़िंदगी पर 'Beyond All Boundaries' नाम की एक डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म भी बन चुकी है. फ़िल्म निर्माता सुश्रुत जैन द्वारा निर्मित ये फ़िल्म सुधीर कुमार के निजी जीवन के बारे में बताती है.